Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

अधिक सोचने वाले एवं उदास रहने वाले के लिए एक बार जरूर पढना motivation "bhairabguru.com"

अगर आप भी बहुत ज्यादा सोचते हो या फिर हमेसा उदास रहते हो तो आपको इसे पूरा पढना चाहिए  पूरा ध्यान से जरूर पढ़ाना

Motivation-bhairabguru

यह एक सच्ची घटना है जो की साइंटिस्ट और बैज्ञानिको द्वारा प्रैक्टिकल किया गया है

हमने आपको समझाने के लिए राजू & राजीव नाम लिखा है ताकि आपको अच्छे सोचने वाले और बुरे सोचने वाले में फर्क पता चल सके

 यह भी पढ़ कर देखें

Covid vaccine certificate को id card मे बदले

एक बार ऐसा हुवा की एक डॉक्टर के पास दो मरीज एक साथ आये  जिसमे से एक का नाम राजू , दूसरे का नाम राजीव था और दोनो को एक ही बीमारी था !  बुखार सर्दी और खांसी 

रोगी - Raju Kumar

उम्र - 19 Year 

डॉक्टर ने राजू से पूछा की आपका नाम क्या है राजू ने अपना नाम राजू कुमार बताया फिर डॉक्टर ने राजू से पूछा की आपका उम्र क्या है राजू ने बताया की मेरा उम्र 19 साल है फिर डॉक्टर ने पूछा की आपको क्या दिक्कत है तो राजू ने बताया की मुझे बुखार सर्दी और खांसी है तो डॉक्टर ने राजू को जो दावा उनको उनके बीमारी के लिए चाहिए था  वही दावा दिया और डॉक्टर ने उनको कहा की इस दावा से आपको 80% उम्मीद है की आप ठीक हो जाओगे हो सकता है की आप नही भी ठीक हो पाओ दुबारा आना पर सकता है

www.bhairabguru.com

अब

रोगी - Rajiv Kumar 

उम्र - 19 Year

डॉक्टर ने  राजीव से पूछा की आपका नाम क्या है राजीव ने अपना नाम राजीव कुमार बताया फिर डॉक्टर ने राजीव से पूछा की आपका उम्र क्या है राजीव ने बताया की मेरा उम्र 19 साल है फिर डॉक्टर ने पूछा की आपको क्या दिक्कत है तो राजीव ने बताया की मुझे बुखार सर्दी और खांसी है तो डॉक्टर ने राजीव को जो दावा उनको उनके बीमारी के लिए चाहिए था  वो दावा उनको नही दिया उसके बदले कोई दूसरी दावा दे दिया और राजीव को बोले की आपको मैं गारेंटी लेता हुँ की आप 110% आपकी बीमारी जल्दी से जल्दी ठीक हो जाए आपको हमारे पास दूबारे आने की जरूरत नही पड़ेगा !

आब दोनो राजू और राजीव अपने-अपने घर चले गए

 जब राजू दबा खाता तो वह यह सोचते हुवे दावा खाता की मुझे नही लगता है की है भगवान मेरा बीमारी ठीक नही होग लगता है फिर डॉक्टर के पास जाना पड़ेगा ! 

इस कारण से वो काफी परेसान भी रहता और उदास भी

वही राजीव दावा खाता तो वह ये सोचता की जय भगवान मेरा बीमारी अब जल्द ठीक हो जाएगा और वो खुशी से दावा खाता ! 

और हमेसा खुश रहते

3 दिन के बाद

राजीव का दावा खत्म होने से पहले ही उनका बीमारी ठीक हो गया ( क्योकि हमेसा यह सोचता की मैं आब स्वस्थ्य हो जाऊंगा )

वही राजू का दावा पूरे खत्म होने के बयाद भी वो बीमार ही था ( क्योकि हमेसा यह सोचता की अब मैं बीमार ही रहूँगा ) 

आपको क्या करना चाहिए

आपको हमेसा चाहे किताना भी परेसानी ही क्यो आ जाए लेकिन आपको उस परेसानी के बारे में आपको अच्छा ( पॉजिटिव ) सोचना सोचना है और आपको हमेसा दिल से खुस रहना है अगर आप ये सोचोगे की आप हार जाओगे इस बजह से आप हमेसा अपने बारे में ही बुरा ( नेगेटिव ) सोचोगे 110% आपके साथ बुरा ही होगा अगर आप हारते हुवे भी अच्छा ( पॉजिटिव ) सोचोगे तो आप 200% आपके  साथ अच्छा होगा हर कर भी आप जीत जाओगे और आपको कही भी ज्यादा देर बैठना नही है हमेसा एक्टिव रहो फुर्तीले रहो 

                                   The End

 नए जानकारी के लिए हमारे bhairab guru को फॉलो करे ( follow me www.bhairabguru.com  for new Update )

हमें खुसी है की आपने हमारे वेबसाइट पर पधारे और यहां से जानकारी प्राप्त किये और हमें उम्मीद है की आपको समझ में आ गया होगा । वैसे हम पूरी कोशिश कर रहे है की किस प्रकार पोस्ट लिखे की आपको आसानी से समझ में आ जाये और आप दूसरे को भी बताये । अगर आपका कोई प्रॉब्लम हो तो कमेंट करिये ।

हमारे YouTube Channel को जरूर चेक & सब्सक्राइब करना mr bhairab online

Post a Comment

0 Comments

Ad Code